रविवार, 7 अप्रैल 2013

दादा -दादी में हुई लड़ाई


   Cartoon_grandfather : People and family collection 2  
 


दादा -दादी में हुई लड़ाई ,
 दोनों ही जिद्दी हैं भाई ,
दादा जी ने मूंछे ऐंठी   ,
दादी ने त्योरी थी चढ़ाई !


 यूँ मुद्दा था नहीं बड़ा
पर लड़ने का शौक चढ़ा ,
दादा चाहते मीठा खाना ,
दादी का डंडा है कड़ा !


 डायबिटीज  की लगी बीमारी
दादा जी की ये लाचारी ,
इसी बात पर दादी अकड़ी
बोली अक्ल गयी क्या मारी ?


 दादा जी को गुस्सा आया ,
दादी को बिलकुल न भाया ,
हुई शरू यूँ तू तू मैं मैं ,
मैंने माँ को शीघ्र बुलाया !


 माँ लायी थी रसमलाई ,
दादा जी ने खुश हो खाई ,
बोली दादी से माँ हँसकर
'शुगर फ्री ' है ये मिठाई !


दादा हँसे हँसी दादी भी ,
मुझको भी हँसी थी आई ,
दोनों मुझको लगते प्यारे ,
माँ भी हल्के से मुस्काई !


 तुकांत कविता"मौलिक व अप्रकाशित"




शिखा कौशिक 'नूतन'


 

1 टिप्पणी:

Yashwant Mathur ने कहा…

कल 04/07/2013 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
धन्यवाद!